Wed Jan 18 18:27:51

पंजाब चुनाव: टिकट बंटवारे से नाराज भाजपा अध्?यक्ष सांपला ने दिया इस्तीफा
चंडीगढ़। पंजाब चुनाव से पहले ही भाजपा में अंदरूनी विवाद शुरू हो गए हैं। टिकट बंटवारे से नाराज भाजपा के प्रदेश अध्?यक्ष विजय सांपला ने इस्?तीफा दे दिया है। बताया जा रहा है कि वो पार्टी में अपने समर्थकों को टिकट ना मिलने साथ ही कुछ नापसंद लोगों के नाम लिस्?ट में शामिल होने से दुखी थे। अपनी नाराजगी जताने के लिए उन्?होंने केंद्रीय नेतृत्?व को इस्?तीफा भेज दिया है वहीं मंगलवार को वो केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत से भी मिलने पहुंचे। उन्?होंने राज्?य में कैबिनेट का पद छोडऩे की भी पेशकश कर दी है। सूत्रों के अनुसार सांपला इस बात से नाराज हैं कि पार्टी ने उनकी सलाह को नजरअंदाज करते हुए अमृतसर उत्?तर, फगवाड़ा, जालंधर पश्चिम और अन्?य सीटों से उम्?मीदवार घोषित कर दिए हैं। खबर है कि फिलाहल पार्टी ने उनका इस्?तीफा मंजूर नहीं किया है।
--------------

साइकिल का चिन्ह जीतकर अखिलेश ने साबित की ये पांच बातें
लखनऊ। निर्वाचन आयोग ने सोमवार को समाजवादी पार्टी का चुनाव चिन्ह साइकिल अखिलेश यादव के नेतृत्व वाले गुट को आवंटित कर दिया। इससे लगता है कि यह कदम पार्टी के संस्थापक और मुख्यमंत्री अखिलेश के पिता मुलायम सिंह यादव के लिए एक बड़ा झटका है। मुलायम सिंह की राजनीतिक यात्रा 1969 में शुरू हुई थी, लेकिन आधे रास्ते में आकर लगता है कि उनका समाजवादी परिवार बिखरने की कगार आ गया है। नेताजी के रूप में लोकप्रिय होने के बाद मुलायम सिंह यादव ने साल 1992 में समाजवादी पार्टी की स्थापना की थी। मगर, अखिलेश को पार्टी के प्रतीक मिल जाने को क्या मुलायम सिंह यादव के राजनीतिक कैरियर का अंत समझ लेना चाहिए? जानते हैं उत्तर प्रदेश की राजनीति में सत्ता के हस्तांतरण की व्याख्या करने वाली इन बातों के बारे में
1- अखिलेश यादव समाजवादी पार्टी के निर्विवाद नेता बना गए हैं और उन्होंने दिखा दिया है कि वह उत्तर प्रदेश की राजनीति का नया चेहरा हैं। पांच साल तक प्रदेश का मुख्यमंत्री होने के बावजूद वह अभी तक इसका दावा नहीं कर सके थे।
2- इसने अखिलेश की सत्ता विरोधी लहर को किनारे कर दिया है और उसे एक नए चेहरे के रूप में मतदाताओं के सामने जाने की सहूलियत दी है। इस घटनाक्रम ने यह बात भी साबित की है वह एक कमजोर मुख्यमंत्री नहीं थे। इसके विपरीत, इसने यह संकेत दिया है कि अखिलेश एक मजबूत नेता हैं, जो बड़े कारण के लिए अपने ही परिवार के खिलाफ विद्रोह कर सकते हैं और उसे जीत भी सकते हैं।
3 इस घटनाक्रम ने बड़े भावनात्मक जुड़ाव और संगठनात्मक समर्थन से अखिलेश यादव को अपने पिता मुलायम सिंह की राजनीतिक विरासत पर दावा करने की इजाजत दे दी है। उसे पार्टी के यादव-मुस्लिम वोट बैंक को मजबूत करने के लिए भी एक बेहतर मौका मिल गया है, जिसके विभाजित होने की आशंका जाहिर की जा रही थी।
4- अखिलेश यादव को अपने विकास के मॉडल को दिखाने का मौका मिल गया है, जो युवा मतदाताओं को अपनी ओर आकर्षित कर सकता है।
5 कांग्रेस और राष्ट्रीय लोकदल के रूप में संभावित सहयोगियों के साथ विचार विमर्श के लिए अखिलेश मजबूत स्थिति में हैं। इसका मतलब है कि वह वार्ता की मेज पर सबसे बड़े ब्लॉक के नेता के रूप में मजबूत हो सकते हैं।

यह है कोहली का सक्सेस मंत्रा, पढ़ें कप्तान की कामयाबी का फ्रेंडशिप कनेक्शन
नई दिल्ली। विराट कोहली की कामयाबी का नया फंडा सामने आया है। टीम इंडिया के कप्तान का कहना है कि किस्मत से उनकी जिंदगी में ऐसे लोगों की संख्या बहुत कम है, जो उनके बहुत करीबी हैं। इससे मदद मिलती है। बकौल कोहली, यदि आपके आसपास बहुत सारे लोग हैं, आपके बहुत सारे दोस्त हैं, तो आप भटक सकते हैं और टाइम मैनेजमेंट असंभव हो जाता है। एक ब्रिटिश चैनल से साक्षात्कार में कोहली ने यह बात कही। इंटरव्यू इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासीर हुसैन ने लिया।
...और क्या खास कहा कोहली ने
- भारतीय कप्तान ने 2014 के इंग्लैंड दौरे के बाद अपनी बल्लेबाजी तकनीक में किए गए बदलावों पर भी खुलकर बात कही। उस दौरे पर कोहली पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में कभी भी 50 रन से ज्यादा का स्कोर नहीं बना पाए थे।
- इस तकनीक में बदलाव के बाद कोहली 2014 में ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर गए थे और शानदार प्रदर्शन किया था, जो आज तक जारी है।
-कोहली ने कहा, उस इंग्लैंड दौरे पर मैं भारी दबाव में था। मुझे हर हाल में रन बनाने थे और इसकी हड़बड़ाहट में मैं गलतियां कर रहा था।
- कप्तान ने माना कि तब वे इनस्वींग गेंदों को खेलने में परेशानी महसूस कर रहे थे। तकनीक में जरूरी बदलाव किए।
- तब सचिन तेंडुलकर की सलाह ने भी कोहली को बहुत मदद की थी। सचिन ने कहा था कि जिस तरह कोहली स्पीनरों को खेलते हैं, वैसे ही उन्हें आगे बढ़कर तेज गेंदबाजों का भी सामना करना चाहिए।
---------------

अधिकारियों के काम से नाराज पीएम मोदी, बीच में छोड़ दिया प्रेजेंटेशन
नई दिल्ली। काम को लेकर सख्त प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विभिन्न विभागों के सचिवों के काम से खुश नहीं हैं। लिहाजा, उन्होंने अधिकारियों को प्रजेंटेशन पर और मेहनत करने का निर्देश भी दिया है। एक अन्य मौके पर वह पिछले हफ्ते अधिकारियों की आधी-अधूरी तैयारियों से नाराज होकर उनका प्रेजेंटेशन बीच में छोड़कर ही चले गए। पीएम का प्रेजेंटेशन के बीच में ही उठकर चले जाना थोड़ा असामान्य था, क्योंकि आमतौर पर वह हमेशा पूरे प्रेजेंटेशन के दौरान बैठते हैं। इसके साथ ही वह अधिकारियों को इसके बाद प्रजेंटेशन को लेकर चर्चा भी करते हैं। मगर, इस बार उन्होंने अपनी नाराजगी खुलकर जाहिर की। गौरतलब है कि पीएम की पहली बार की नाराजगी कृषि और उससे जुड़े विभाग के अधिकारियों से हुई मीटिंग में सामने आई थी। वहीं, पिछले हफ्ते स्वास्थ्य, स्वच्छता और शहरी विकास के सचिवों के साथ बैठक में वह अधिकारियों की तैयारियों से खफा होकर मीटिंग बीच में ही छोड़कर चले गए थे। लगभग सभी सचिवों और अन्य विभाग के प्रमुख, प्रधानमंत्री कार्यालय और नीति आयोग से अधिकारी पीएम के आवास पर होने वाले प्रजेंटेशन के दौरान बतौर ऑडियन्स मौजूद रहते हैं।
गुनगुनी ठंड के बीच क्रिकेट का मजा
जिपं उपाध्यक्ष ने किया उद्घाटन, स्कूल के सांस्कृतिक कार्यक्रम मेें भी की शिरकत
उचेहरा। बेशक जिला शीतलहर की चपेट में है लेकिन उचेहरा के रहवासी गुनगुनी ठंड के बीच क्रिकेट का लुत्फ उठा रहे हैं। शुक्रवार को जिपं उपाध्यक्ष डा. रश्मि सिंह ने  उचेहरा के गढ़ी मैदान में आयोजित अध्यक्ष ट्राफी टेनिस बाल क्रिकेट प्रतियोगिता का उद्घाटन किया। क्रिकेट प्रतियोगिता का उद्घाटन करते हुए जिपं उपाध्यक्ष ने कहा कि खेल हमें आपसी समन्वय, सहयोग, अनुशासन , सद्भावना व कड़ी मेहनत की सीख देते हैं, अत: सभी खिलाड़ी खेल भावना का परिचय दें और क्रिकेट प्रतियोगिता को आपसी सद्भावना का औजार बनाएं। उद्घाटन मैच पुलिस इलेवन व ज्वलंत टीम के बीच हुआ जिसका लुत्फ जिपं उपाध्यक्ष के अलावा केुंवर छत्रसाल सिंह, श्यामकली चौधरी समेत क्षेत्र के हजारों क्रिकेट प्रेमियों ने उठाया। 
सांस्कृतिक कार्यक्रमों ने मोहा मन 
महर्षि विद्या मंदिर बगहा में महर्षि जन्म शताब्दी उपलक्ष्य में आयोजित रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रगम की  मुख्य अतिथि जिपं उपाध्यक्ष डा. रश्मि सिंह रहीं। इस दौरान छात्र-छात्राओं ने महर्षि के संदेश देने वाले कई कार्यक्रमों के अलावा नयनाभिरामी सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति देकर मौजूद अतिथिगणों का मन मोह लिया। कार्यक्रम के दौरान नन्हे मुन्नों की प्रस्तुति इतनी मनमोहक थी कि जिपं उपाध्यक्ष एक लाड़ली को गोद में उठाने से अपने आपको नहीं राके सकी।  डॉक्टर रश्मि सिंह ने युवा दिवस पर राष्ट्र की एकता , अखंडता और सुरक्षा के लिए प्रेरित करते हुए कहा कि बचपन इंसान का वह ख़ूबसूरत पहलू होता है जिसने वह इतिहास रचने के हर सपने साकार करना चाहता है पर उन सपनों को पंख तभी लगते हैं जब निष्ठा, इमानदारी व लगन से सपनों को पूरा करने की राह पर चला जाय। 
विट्स स्कूल& फर्जी स्कूल का बदला संकुल, नहीं हुई छात्रों की मैपिंग फीडिंग
कन्या धवारी प्राचार्य ने सेनानी के दलालों को भगाया,  फर्जी तरीके जबरिया जोड़ दिया गया बगहा हाईस्कूल में स्कूल का नाम
सतना (मारुति एक्सप्रेस)।
जिले में फर्जी शिक्षा के नाम पर स्कूल चलाने वाली विटस स्कूल की संचालिका सिद्धा सेनानी और उसके संरक्षक सुनील ने सोहावल बीआरसी एस. बी. सिंह और मान्यता  दलाल बाबू राजीव अर्गल के काले कारनामों पर रोक नहीं लग पा रही है लेकिन इन दलालों के चक्कर में पूरे शिक्षा विभाग की बदनामी तमगा जरुर लगता जा रहा शिक्षा विभाग के सूत्रों की माने तो इस फर्जी स्कूल के बारे में जैसे ही संकुल केंद्र कन्या धवारी के प्रिंसपल सुभाषचंद्र मिश्रा को जानकारी लगी है इस फर्जी स्कूल की मान्यता ही नहीं और बिना मान्यता के यह स्कूल चलाया जा रहा है तो संकुल केंद्र में फर्जी अधिकार लेकर पहुंचे इस स्कूल के संरक्षण दाताओं को प्राचार्य ने बाहर का रास्ता दिखा दिया लेकिन जिस तरह से विटसस्कूल के फर्जीवाड़े को चलाने के लिए सोहावल के बीआरसी एस बी सिंह और वेंकट क्रमांक 2 में पदस्त बाबू राजीव अर्गल जो कभी जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में मान्यता की प्रभारी हुआ करता था वह आज भी उस कुर्सी का मोह नहीं छोड़ पा रहा है और आए दिन या कहें प्रतिदिन जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में मान्यता के दलालों की दलाली करता दिखाई देता रहता है और जब विटस स्कूल के फर्जीवाड़े में इस भ्रष्ट बाबू राजीव अर्गल का नाम सामने आया तो जिला शिक्षा अधिकारी से भी जवाब देते भी नहीं बन पाया क्योंकि जिस तरह से शहर में एक फर्जी स्कूल इतने बड़े पैमाने पर चलाई जा रही थी और इसमें बाबू और बीआरसी का अहम रोल था जोकि छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने से भी हिचकिचाए नहीं और फर्जी स्कूल खोलकर भ्रष्टाचार करने में संचालक की मदद करने लगे।
शिक्षा के दलालों ने संकुल से संकुल तक कराया फर्जीवाड़ा
बिट स्कूल की संचालिका सिद्धा सेनानी और उसके संरक्षक सुनील सेनानी की फर्जी स्कूल को बचाने के लिए शिक्षा के दलाल सोहावल बीआरसी एस.बी.सिंह और मान्यता का ठेकेदार राजीव अर्गल कारस्तानी के बारे में कन्या धवारी के प्रिंसपल को जानकारी लगी तो उन्होंने इस स्कूल के फर्जी रिकॉर्ड लेने से मना कर दिया और फिर इन भ्रष्टाचारियों ने फर्जी तरीके से देवरिया बगहा हाई स्कूल में इस स्कूल को दिसंबर के अंतिम सप्ताह में जुड़वा दिया गया जबकि प्रिंसपल आर के यादव का कहना है कि उन्होंने एक बार इनके सारे रिकार्ड के साथ ही ने वापस कर दिया था क्योंकि यह क्षेत्र उनके हाई स्कूल के दायरे में आता ही नहीं और इसके बाद वह छुट्टी में चले गए तो फर्जी तरीके से पोर्टल में यह स्कूल कैसे अपलोड हो गई और बकरा हाई स्कूल में देखने लगी यह तक जांच का विषय है लेकिन इन भ्रष्टाचारियों ने जिस तरह से इतने बड़े पैमाने पर शिक्षा को बेचने का गोरखधंधा किया है उससे शिक्षा विभाग और जिला प्रशासन को इन दलालों पर कारवाही तो जरूर करना चाहिए क्योंकि जिस तरह से जिले के छात्रों और अभिभावकों के साथ धोखाधड़ी और गोरखधंधे का काम इन दलालों के द्वारा किया जा रहा है उससे विभाग की बदनामी हो रही है।
दिसंबर माह में जोड़ी गई फर्जी विट्स स्कूल
शिक्षा को शिक्षा की तरह नहीं व्यापार और गोरखधंधे के काम की तरह शिक्षा को बेचने वाले भ्रष्टाचार में लिप्त बीआरसी सोहावल एसबी सिह और मान्यता ठेकेदारी करने वाला भ्रष्टाचार में लिप्त बाबू राजीव अर्गल शायद वही हम भूल गए के संकुल केंद्रों में और जन शिक्षा केंद्र में स्कूल चलाने का रिकॉर्ड भी होता है लेकिन फर्जीवाड़े में यह प्राथमिक काम तो कर ही नहीं पाए जिसके चलते अब छात्रवृत्ति के नाम पर होने वाली मैपिंग फिडिग में धांधलेबाजी की जा रही प्रिंसपल बड़ा हाई स्कूल आर के यादव की माने तो यह स्कूल दिसंबर महीने उनके संकुल में जोड़ी है इसके पहले यह कहां थी उन्हें खुद ही नहीं पता।
छात्रवृत्ति के लिए छात्रों की नहीं हुई मैपिंग फीडिंग
शिक्षा बेचने के नाम पर स्कूल की दुकान चलाने वाला सेनानी छात्रों की आजतक छात्रवृत्ति के लिए मैपिंग और फिटिंग का काम नहीं करा पाया जबकि विवादित विटस स्कूल का तमगा लिए यह जिलेभर के छात्रों में अध्यापकों के साथ धोखाधड़ी करके उनकी प्राथमिक शिक्षा को चौपट करने का काम कर रहा बगहा हाईस्कूल के प्रचार की माने तो आज तक छात्रों की मीटिंग फीडिंग का काम नहीं कराया गया है जबकि उनके स्कूल में इस स्कूल को जबरिया जोड़ा गया है जबकि इसके पहले यह स्कूल कहां थी कब से संचालित कि इसके संबंध में कोई भी रिकार्ड और कागजात बगहा हाई स्कूल संकुल में नहीं है तो फिर अचानक बगहा हाईस्कूल में यह फर्जी विटस स्कूल कैसे जुड़ गई है तो शिक्षा के दलाल सोहावल बी आर सी एस.बी. सिंह और राजीव अर्गल जैसे भ्रष्ट बाबू ही बता पाएंगे शिक्षा के नाम पर कितना भ्रष्टाचार करेंगे।
इनका कहना है
विटस स्कूल के रिकॉर्ड लेकर कुछ लोग संकुल केंद्र में आए थे लेकिन इस स्कूल के फर्जीवाड़े की जानकारी संकुल केंद्र में थी इसीलिए हमने कागज सहित उनके लोगों को लौटा दिया था लेकिन यह किस तरह से दिसंबर माह में हमारे संकुल में इसका नाम जुड़ गया यह मुझे पता नहीं इसकी शिकायत मै जिला शिक्षाअधिकारी से करूंगा बीच सत्र में संकुल में स्कूल का नाम कैसे जुड  गया इसके पहले यह स्कूल कहां थी मुझे जानकारी नहीं जबकि इस स्कूल की छात्रवृत्ति की मैपिंग फिटिंग का काम भी नहीं हुआ है।
आर. के. यादव
प्राचार्य हायर सेकेंडरी 
स्कूल बगहा
नोटबंदी: राहुल गांधी पर भड़की भाजपा बता दिया पार्ट टाइम नेता
नई दिल्ली (जेएनएन)। पांच राज्यों में आगामी विधानसभा चुनाव में नोटबंदी को एक प्रमुख मुद्दा बनाने के उद्देश्य से दिल्ली में आयोजित 'जन वेदना सम्मेलन में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हमला बोला है। उधर, इस मामले में भाजपा ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि राहुल गांधी कांग्रेस के पार्ट टाइम नेता हैं।
नोटबंदी को बताया अपरिपक्व फैसला
दिल्ली के तालकटोरा इंडोर स्टेडियम में आयोजित इस सम्मेलन में कांग्रेस उपाध्यक्ष ने नोटबंदी को भारतीय जनता पार्टी सरकार का अपरिपक्व फैसला बताया। उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया कि बिना किसी से पूछे नोटबंदी को लागू किया गया।
आरबीआइ के सुझावों की अनदेखी
उन्होंने कहा कि इस मामले में आरबीआइ के सुझावों की भी अनदेखी की गई है। नोटबंदी की दुनिया के सभी अर्थशास्त्रियों ने निंदा की है। राहुल गांधी ने कहा कि गरीबों के खून-पसीने की कमाई एक मिनट में कागज के टुकड़ों में बदल गई।
रामदेव को बताया मोदी सरकार का अर्थशास्त्री
राहुल गांधी ने इस मौके पर बाबा रामदेव पर भी चुटकी लेते हुए कहा कि मौजूदा समय में वह केंद्र सरकार के अर्थशास्त्री हैं। मोदी सरकार उनके सुझावों पर काम कर रही है। नोटबंदी के बाद पीएम बाबा रामदेव जैसे होम मेड इकोनॉमिस्ट के पीछे छिप रहे हैं।
देश के लिए कांग्रेस ने दी कुर्बानी
राहुल ने आरोप लगाया कि भाजपा ने संवैधानिक संस्थाओं को कमजोर किया है। हमें 70 साल का हिसाब देने की जरूरत नहीं है। कांग्रेस ने देश के लिए कुर्बानी दी है। राहुल ने कहा कि पीएम 'मेक इन इंडिया' कार्यक्रम चलाते हैं और आज ऑटोमोबाइल सेक्टर 60त्न नीचे चला गया है। हमने 70 साल में आरबीआइ की, ज्यूडिशियरी की इज्जत की। प्रेस की इज्जत की। आपने बिना किसी को पूछे, बिना किसी को बताए जेब का पैसा कागज बना दिया।
सिर्फ नरेंद्र मोदी और मोहन भागवत चलाएंगे देश
कांग्रेस उपाध्यक्ष ने संघ पर भी निशाना साधते हुए कहा कि हम मोदी जी की सोच का विरोध करते हैं और हम इनको हरा कर ही दम लेंगे। शायराना अंदाज में राहुल गांधी ने कहा कि 'वे कहते हैं कि तू क्या है'। अब देश को सिर्फ नरेंद्र मोदी और मोहन भागवत चलाएंगे।
स्वच्छता अभियान पर भी किया कटाक्ष
अपने संबोधन के दौरान राहुल गांधी ने भाजपा सरकार के स्वच्छता अभियान पर भी कटाक्ष किया। उन्होंने कहा कि भाजपा नेता अभियान के दौरान ठीक से झाड़ू भी नहीं पकड़ सके।
भाजपा का राहुल पर पलटवार, बताया पार्ट टाइम नेता
वहीं, राहुल के संबोधन के कुछ देर बाद ही भाजपा ने उन पर पलटवार करते हुए उन्हें पार्ट टाइम नेता बताया। भाजपा प्रवक्ता शहनवाज हुसैन ने कहा कि नोटबंदी को 125 करोड़ लोगों का समर्थन है। राहुल गांधी के योग वाले बयान पर भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि योग को पूरी दुनिया ने माना है।
भाजपा देश की आत्मा को मार रही है
इससे पहले जन वेदन सम्मेलन में लोकतांत्रिक संस्थाओं को कमजोर करने का आरोप लगाने के साथ राहुल गांधी ने कहा कि हम 16 साल पहले के हाल में पहुंच गए हैं। भाजपा देश की आत्मा को मार रही है। इस मौके पर पार्टी के सभी सांसदों, विधायकों प्रदेश कांग्रेस कमेटी प्रमुखों और पदाधिकारियों को संबोधित करने के दौरान राहुल गांधी ने पीएम मोदी का मजाक उड़ाया। उन्होंने कहा कि मोदी पद्मासन नहीं कर सकते, योग क्या करेंगे। साथ ही कहा कि जो पद्मासन नहीं कर सकता वह योग भी नहीं कर सकता है।
------------

डीजीपी ने ली संभाग के पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक
सतना (मारुति एक्सप्रेस)।
मध्य प्रदेश पुलिस के महानिदेशक ऋषि कुमार शुक्ला आज रीवा कंट्रोल रूम में कई संभागों के पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे है पुलिस विभाग में अचानक इस तरह की बैठकों का दौर कोई पहले से निर्धारित नहीं था विगत दिनों मुख्यमंत्री मध्य-प्रदेश शिवराज सिंह द्वारा भोपाल पुलिस हेडक्वार्टर में डीजीपी ऋषि कुमार शुक्ला के साथ बैठक कर के निर्देश दिया था प्रदेश की कानून व्यवस्था को दुरुस्त करें और  अपराधियों पर नकेल कसने तथा तमाम तरह के अवैध रूप से चल रहे कारोबार पर लगाम लगाएं इस बैठक का उद्देश  कानून व्यवस्था को जहां जाना था।
आईजी समेत पुलिस अधीक्षक रहे उपस्थित
पुलिस महानिदेशक ऋषि कुमार शुक्ला ने कानून व्यवस्था की समीक्षा के दौरान रिवा रेंज के आईजी आशुतोष राय सपना पुलिस अधीक्षक मिथिलेश कुमार शुक्ला और रीवा पुलिस अधीक्षक समेत कई संभागों के पुलिस अधिकारी बैठक में उपस्थित रहे थे और जिलेवार कानून व्यवस्था और अपराधों की समीक्षा की गई अब देखना यह होगा कि पुलिस महानिदेशक ऋषि कुमार की बैठक के बाद जिले के पुलिस अधीक्षक की कार्य शैली में किस तरह का बदलाव देखने को मिलता है क्योंकि मुख्यमंत्री मध्य-प्रदेश शिवराज सिंह ने जिस तरह से विगत दिनों पुलिस मुख्यालय भोपाल में बैठक कर के निर्देश दिए थे कि पुलिस अधीक्षक अपने घरों से बाहर नहीं निकलते उन्हें जनता के बीच में जाना चाहिए और उनसे संवाद कर के जिले की व्यवस्था को सुधारने में काम करें।
मैराथन बैठक में कई तरह की रही हलचल 
रीवा पुलिस कंट्रोल रूम में पुलिस महानिदेशक मध्यप्रदेश ऋषि कुमार शुक्ला की बैठक में कई संभागों के पुलिस के आला अधिकारी उपस्थित रहे हो इस बैठक को लेकर तरह-तरह की चर्चाओं का बाजार भी गर्म रहा क्योंकि जिस तरह से आए दिन अखबारों और मीडिया के माध्यम से कानून व्यवस्था का हाल बेहाल नजर आ रहा था चलते इन का दौरा संभावित हुआ अब देखना यह होगा कि बीजेपी की बैठक के बाद पुलिस की कार्यशैली में कितना बदलाव आता यह तो समय ही बताएगा लेकिन अगर इस तरह की बैठकर समय समय पर होती रही तो पुलिस विभाग में थोड़ी बहुत सुगबुगाहट नजर आती रहेगी।
                 Image..                         Open a new window
Top News
 
पंजाब चुनाव: टिकट बंटवारे से नाराज भाजपा अध्?यक्ष सांपला ने दिया इस्&#
 
गुनगुनी ठंड के बीच क्रिकेट का मजा
 
डीजीपी ने ली संभाग के पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक
 
संभाग से ख़बरें
Bhopal
117.204.193.195A21713bhopal.jpg
भोपाल . कलेक्टर श्री निशांत वरवड़े ने कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आज समî
Satna
117.204.193.195A694741.jpg
एनएसयूआई ने किया चकाजाम आंदोलन 
सतना (मारुति एक्सप्रेस)।
एनएसय&#
Rewa
117.248.190.43A81315Rewa-10-1-2017-1b copy.jpg
रीवा . आगामी 19 जनवरी को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के मुख्य आतिथ्&#
 
Jabalpur
117.204.193.195A24224jabalpur.jpg
समय-सीमा बैठक सम्पन्न 
जबलपुर .कलेक्टर महेश चन्द्र चौधरी ने अधिक
Indore
117.204.193.195A19706indor.jpg
इन्दौर . आज कलेक्टर श्री पी.नरहरि के निर्देशन में  गाड़ी अड्डा रेलवí
Sagar
117.248.190.43A52312nand.jpg
सागर। भाजपा की सागर में शुरू हुई दो दिवसीय प्रदेश कार्यसमिति की बैé
खेल मनोरंजन फिल्म
रवि शास्त्री ने किया गांगुली को नजरअंदाज, धोनी को बताया 'दादा कप्तान'
सच जानकर हैरान रह जाएंगे आप, 25 साल से हैंड ग्रेनेड से तोड़ता रहा अखरोट!
खत्म हुई बाहुबली की शूटिंग, राजामौली ने फेसबुक पर शेयर किया इमोशनल पोस्ट
Photo Albums
NO Photo available in this Album!!
 
विज्ञापन
Market Watch
Hot Pictures of the Day
 
 Yes
 No
 Cannot say
 
News paper PDF