Thu Aug 25 20:21:28

जिगिशा मर्डर केस: दो को फांसी, एक को उम्रकैद; ऑफिस से लौटते वक्त आईटी इम्प्लॉई का 7 साल पहले दोषियों ने किया था किडनैप
नई दिल्ली. जिगिशा मर्डर केस में दो दोषियों को फांसी की सजा सुनाई गई है। एक को उम्र कैद दी गई है। दिल्ली की साकेत कोर्ट ने सोमवार को इस मामले में रवि कपूर और अमित शुक्ला को मौत की सजा दी। वहीं, जेल में अच्छे बर्ताव के कारण तीसरे दोषी बलजीत मलिक को उम्रकैद ही हुई। बता दें कि आईटी प्रोफेशनल जिगिशा घोष का मार्च 2009 में ऑफिस से लौटते वक्त दोषियों ने किड़नैप कर लिया था। दो दिन बाद जिगिशा की लाश हरियाणा के सूरजकुंड में मिली थी। 
कौन थी जिगिशा, कैसे हुआ था मर्डर...
- 28 साल की जिगिशा घोष नोएडा में एक बीपीओ हैविट एसोसिएट में ऑपरेशनल मैनेजर थीं।
- 18 मार्च 2009 को जिगिशा का ऑफिस से लौटते वक्त सुबह 4 बजे बसंत विहार एरिया में उनके घर के बाहर से ही किडनैप कर लिया गया था। ऑफिस कैब ने जिगिशा को वहां छोड़ा था।
- इसके बाद आरोपियों ने जिगिशा के एटीएम और क्रेडिट कार्ड का यूज करते हुए स खरीदारी की।
- 18 मार्च को किडनैप हुई जिगिशा घोष की बॉडी 21 मार्च को सूरजकुंड के पास रिकवर की गई थी।
सीसीटीवी फुटेज से मिला था सुराग
- जिगिशा मर्डर मामले में ये दोषी उसके एटीमएम कार्ड से खरीददारी करते हुए पाए गए थे।
- सरोजनी नगर मार्केट से इनका सीसीटीवी फुटेज मिला था। जिसे कोर्ट ने बड़ा सबूत माना।
इस आधार पर हुई सजा
- इस मामले में गाडिय़ां चुराने वाले गैंग का हाथ सामने आया था। आरोपी रवि कपूर इस गैंग का सरगना है।
- दिल्ली के खानपुर का रहने वाला रवि पैसे के लिए साथियों के साथ गाडिय़ां चुराने से लेकर हत्या-लूट की वारदात करता था।
- कोर्ट ने तीनों को मर्डर, आपराधिक साजिश रचने, किडनैप, लूट और हथियारों के इस्तेमाल के मामले में दोषी पाया था।
- इस मामले में एडिशनल मजिस्ट्रेट संदीप यादव की कोर्ट ने 5 जुलाई को हुई सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया था।
टीवी जर्नलिस्ट सौम्या का भी किया था मर्डर
- इन पर जिगिशा के साथ ही टीवी जर्नलिस्ट सौम्या के भी मर्डर का आरोप है। ये अपना दोष कबूल कर चुके हैं।
- बता दें कि सौम्या (25) की लाश 30 सितंबर 2009 को सुबह बसंत कुंज इलाके में उसकी कार में मिली थी। 
- पुलिस के मुताबिक टीवी पत्रकार सौम्या विश्वनाथन के हत्यारों का सुराग जिगिशा मर्डर केस की जांच के दौरान ही हाथ लगा था।
-----------

मंदसौर में 22 साल बाद पशुपतिनाथ का गर्भगृह डूबा, 30 साल बाद नाव चली
मालवा-निमाड़। हमारे प्रतिनिधि। अंचल में दो दिन हुई बारिश आफत बनकर आई। मंदसौर में शिवना नदी 25 घंटे से भी अधिक समय तक उफान पर रही। 22 साल बाद श्री पशुपतिनाथ महादेव का गर्भगृह पूरा डूब गया। मूर्ति का पूर्ण जलाभिषेक लगभग 17 घंटे तक हुआ। रविवार शाम 4 बजे बाद नदी का पानी धीरे-धीरे उतरने लगा। 24 घंटों में सैलाना में 12 और रतलाम में 8 इंच बारिश हुई। ग्राम बड़ायला माताजी में 6 माह पूर्व निर्मित तालाब फूटने से पानी खेतों में घुस गया। शाजापुर में कलेक्टर ने सोमवार को स्कूलों की छुट्टी घोषित कर दी है। मंदसौर में शिवना में बाढ़ से बुगलिया व तेलिया तालाब की वेस्टवियर का पानी अशोक नगर, राजीव नगर व अन्य बस्तियों में घुस गया। यहां नगर पालिका की नाव व अन्य साधनों से 60 परिवारों को स्कूलों में ठहराया गया। शिवना नदी में 1994 के बाद इतनी जबर्दस्त बाढ़ आई है, उस समय पूरा गर्भगृह डूब गया था, पानी गणेश मंदिर तक पहुंच गया था। इस बार उससे थोड़ी दूरी पर रह गया। वहीं 2006 में भगवान पशुपतिनाथ का पूर्ण जलाभिषेक हुआ था। गांधीसागर बांध का जलस्तर भी शाम तक 1305 फीट तक पहुंच गया है। बांध में 5 लाख क्यूसेक पानी की आवक के चलते रविवार रात में या सोमवार सुबह गेट खोलने की स्थिति बन सकती है। शहर में 30 वर्ष पूर्व धूलकोट बांध दरार आने से नरसिंहपुरा में पानी भरा था, तब नाव चली थी।
सुखेड़ा जलमग्न, गुमटियां बहीं
रतलाम जिले में तीसरे दिन रविवार दोपहर तक लगी रही। ग्राम बड़ायला माताजी में 6 माह पूर्व निर्मित तालाब फूटने से पानी खेतों में घुस गया। सुखेड़ा में निनोर व रोजड़ी नदी में बाढ़ से पूरा गांव जलमग्न हो गया। नदी के आसपास रखी गुमटियां भी पानी में बह गईं। आलोट-ताल क्षेत्र में बहने वाली चंबल-शिप्रा नदी खतरे के निशान पर पहुंच गई। ग्रामीण क्षेत्रों में पुल-पुलियाओं, रपटों पर पानी आने से अधिकांश मार्ग दोपहर तक बंद रहे।चौबीस घंटों में सैलाना में सर्वाधिक करीब 12 इंच और रतलाम में करीब 8 इंच बारिश हुई।
आगर में 7 और शाजापुर में 4.5 इंच, महिला का शव मिला
शाजापुर में औसत 4.5 इंच और आगर में 7 इंच बारिश दर्ज की गई। बारिश से चीलर व लखुंदर डेम लबालब हो गए। मक्सी के पास लखुंदर डेम ओवरफ्लो हो गया। वहीं आगर का टिल्लर डेम भी लबालब हो गया है। लखुंदर, कालीसिंध नदी रविवार को भी उफान पर रही। करेड़ी पुलिया से 10 से 12 फीट ऊपर से लखुंदर नदी बही। राजस्थान के पिड़ावा मार्ग स्थित ग्राम बाल्दा की रपट पर सुसनेर की कार के साथ बही महिला का शव रविवार को मिला। नीमच जिले में अब रिमझिम बारिश का दौर चल रहा है। नीमच-सिंगोली रोड ताल नदी के उफान के कारण कुछ देर बंद रहा। सिंगोली-पटियाल मार्ग शुक्रवार से ही बंद है। जिले की कई बस्तियों में अब भी पानी है। प्रशासन रेस्क्यू अभियान चला रहा है। जीरन क्षेत्र के अगोरिया में वाटर शेड योजना का तालाब फूटने से 100 बीघा से अधिक जमीन की फसल बर्बाद हो गई। झाबुआ जिले में पौने तीन इंच बारिश हुई। क्षेत्र के सभी जलाशय ओवरफ्लो होने से लोगों को पानी से होकर गुजरना पड़ रहा है। आलीराजपुर विकासखंड में 2इंच, जोबट में 2 से अधिक उदयगढ़ में 3 इंच बारिश हुई।
----------

आफत की बारिश - 4 लाख लोग प्रभावित, हजारों बेघर
नई दिल्ली। देश के कई राज्यों में भारी बारिश और बाढ़ की वजह से हालात बेहद खराब हैं। मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, पश्चिम बंगाल और बिहार में भारी बारिश और बाढ़ से हालात बेहद खराब हैं। बाढ़ से बिहार की राजधानी पटना में रविवार को राहत की स्थिति रही। लेकिन बाकी आठ बाढ़ प्रभावित जिलों में आफत बरकरार रही। राज्य में कमोबेश चार चार लाख लोग बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित हैं। उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद और बलिया में हालात ज्यादा बिगड़ गए हैं। इन दोनों शहरों के नए इलाकों में बाढ़ का पानी पहुंच गया है। पश्चिम बंगाल के मालदा में भी गंगा के रौद्ररूप से तबाही है। लगातार बारिश के कारण मध्य प्रदेश के रीवा, निमाड़ और मंदसौर में जनजीवन अस्तव्यस्त है। बिहार में बाढ़ के हालात की समीक्षा के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पटना को सुरक्षित बताते हुए लोगों को बेफिक्र रहने की सलाह दी है। सोन का डिस्चार्ज गंगा में शनिवार को 11.62 लाख क्यूसेक था जो रविवार की दोपहर घटकर 3.60 लाख क्यूसेक हो गया। इस कारण पटना के घाटों पर गंगा के जलस्तर में थोड़ी कमी आई। सोन में आने वाले उफान की संभावना के मद्देनजर पटना समेत बक्सर, भोजपुर, वैशाली, सारण, बेगूसराय, समस्तीपुर, लखीसराय, खगडिय़ा, मुंगेर, भागलपुर व कटिहार में हाईअलर्ट जारी कर दिया गया है। इस बीच दो दिनों में बाढ़ से सात लोगों की मौत हो चुकी है। बाढग़्रस्त इलाकों में सरकारी कर्मचारियों व अधिकारियों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं।
हाजीपुर में 15000 लोग शिविरों में
गंगा में उफान के कारण आरा-बक्सर मार्ग पर आवागमन ठप है। छपरा-सोनपुर व छपरा-मांझी मार्ग पर सात फीट पानी बह रहा है। हाजीपुर में 15 हजार लोगों ने राहत कैंप व ऊंचे स्थानों पर शरण ले रखी है। बेगूसराय में बछवाड़ा प्रखंड में रिग बांध टूट गया है। इससे दर्जनों गांवों में बाढ़ का पानी फैल गया है।
मुंगेर शहर में घुसा पानी
भागलपुर में गंगा खतरे के निशान से 61 सेमी ऊपर बह रही है। खगडिय़ा, मुंगेर, कटिहार, भागलपुर और लखीसराय में पानी की भयावहता दिख रही है। जमीन पर राहत और बचाव कार्य नहीं दिख रहा है। रविवार को मुंगेर के शहरी इलाकों में भी बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया। दो दिनों में राज्यभर में बाढ़ में फंसे अब तक 15 हजार लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला गया है। झारखंड के पलामू और गढ़वा जिले में सोन का जलस्तर नीचे खिसकने से स्थानीय नागरिकों ने राहत की सांस ली है।
ढह गया पूरा गांव
पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में कालियाचक के बाद अब मानिकचक इलाके में गंगा नदी का कटाव तेजी से शुरू हो गया है। रविवार को नदी कटाव में मानिकचक का ढोराईटोला गांव पूरी तरह से ढह गया। इसके अलावा कालियाचक 3 न. ब्लॉक के अंर्तगत कई इलाके भी गंगा कटाव से प्रभावित हो रहे हैं।
इलाहाबाद में 12 हजार बेघर
उत्तर प्रदेश के कई शहरों में बाढ़ से हालात और बिगड़ गए हैं। इलाहाबाद में अब तक 12 हजार से ज्यादा लोग बेघरबार हो गए हैं। उन्हें राहत शिविरों में ठहराया गया है। प्रशासन ने एनडीआरएफ की 35 टीमों की मांग की है। सेना पहले से ही सतर्क है। पूर्वी उत्तर प्रदेश के मीरजापुर से लेकर बलिया तक बाढ़ का कहर जारी है। बलिया और गाजीपुर में एनडीआरएफ और जलपुलिस ने मोर्चा संभाल लिया है।
ठप रहा ट्रेनों का परिचालन
बलिया जिले में बाढ़ की स्थिति और भयावह हो गई है। एनडीआरएफ व फ्लड पीएसी के जवानों ने मोर्चा संभाल लिया है। गंगा हाई डेंजर लेबल से ऊपर बह रही है। दूबे छपरा रिंग बांध पर पानी का दबाव बना हुआ है। बाढ़ की स्थिति को देखते हुए छपरा-बलिया के बीच रात 11 बजे से सुबह आठ बजे तक रेल परिचालन ठप था। एनएच 31 पर भी पानी का दबाव बना हुआ है।
रीवा के 13 गांव बने टापू
मध्य प्रदेश में रीवा जिले के त्योंथर व जवा तहसील में बाढ़ के हालात बने हुए हैं। टमस नदी खतरे के निशान के ऊपर बह रही है। यहां 13 गांव टापू बन गए हैं। 32 गांव का संपर्क त्योंथर मुख्यालय से टूटा हुआ है। प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और स्थानीय मंत्री राजेंद्र शुक्ल का पद्मधर कॉलोनी में विरोध हुआ। इसके बाद सीएम अमानगंज पन्ना के लिए रवाना हो गए। मालवा के निमाड़ अंचल में दो दिन हुई बारिश आफत बनकर आई। मंदसौर में शिवना नदी 25 घंटे से भी अधिक समय तक उफान पर रही। 22 साल बाद श्री पशुपतिनाथ महादेव का गर्भगृह पूरा डूब गया।
फरक्का बांध हटाएं, इसी से बिहार में बाढ़ : नीतीश
गंगा में आई बाढ़ पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने फिर फरक्का बांध पर नए सिरे से विचार करने का मुद्दा उठाया है। नीतीश ने कहा कि जब तक फरक्का में बांध है बिहार को बाढ़ की मार से कोई नहीं बचा सकता। उन्होंने कहा कि फरक्का बांध को हटाया जाना चाहिए। उनके मुताबिक आज बिहार में गंगा की जो स्थिति है, वह फरक्का की वजह से है। सिल्ट के कारण बिहार में गंगा उथली हो गई है। सिल्ट का स्थायी समाधान नहीं हुआ तो आने वाले वर्षों में स्थिति और भयावह होगी।
-----------

पुलिस चौकी में दुष्कर्म, पीडि़ता को धमका रही पुलिस!
महासमुंद। बुंदेली पुलिस चौकी में अपने साथ हुए दुष्कर्म के आरोप लगाने वाली पीडि़ता ने अब पुलिस अफसरों पर मामला दबाने और रफा-दफा करने के लिए धमकाने की बात कही है। रविवार को प्रेस कांफ्रेंस में महिला ने इसका खुलासा किया। उसका कहना है कि 17 अगस्त की रात चौकी में उससे दुष्कर्म हुआ। अगले दिन रक्षाबंधन के चलते वह एसपी नेहा चंपावत से नहीं मिल पाई। 19 अगस्त को एसपी से लिखित शिकायत की। फिर भी डॉक्टरी मुलाहिजा 20 अगस्त शाम 7 बजे पिथौरा में कराया गया। रविवार सुबह दोबारा बयान लेने बुलाया तो ग्रामीणों ने आपत्ति जताई। ऐसे में तीन गाडिय़ों में बंदूकधारी 20 जवानों के साथ एसडीओपी बागबाहरा और खल्लारी थाने से महिला टीआई पहुंची। आंगनबाड़ी केंद्र में फिर से बयान लिया गया। पीडि़ता के पति ने बताया कि पुलिस अधिकारी ने शपथ पत्र दिखाया, जिसमें पीडि़ता बहकावे में आकर गलत शिकायत करने और 'चौकी प्रभारी ने कोई गलत काम नहीं किया' जैसी सफाई दे रही है। जबकि पीडि़ता का दावा है कि उसने ऐसा कोई शपथ पत्र नहीं दिया है।
एसपी ने कहा- आरोप बेबुनियाद हैं
महासमुंद एसपी नेहा चंपावत के मुताबिक पुलिस पर आरोप बेबुनियाद है। पीडि़ता ने पुलिस को शपथ पत्र दिया है। दो दिन बाद महिला टीआई को जांच करवाने भेजा। वह देर रात तक नहीं मिली तो शनिवार को तेंदूकोना थाना में 376(डी) के तहत जुर्म दर्ज किया। घटना व शपथ पत्र की जांच जारी है।
----------------

पीएम मोदी से उमर के नेतृत्व में मिला प्रतिनिधिमंडल, पैलेट गन के इस्तेमाल पर रोक की मांग
नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर सोमवार को उमर अब्दुल्ला की अगुवाई में वहां के विपक्षी नेताओं का प्रतिनिधिमंडल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने साउथ ब्लॉक पहुंचा। नेशनल कॉन्फ्रेंस के वरिष्ठ नेता और जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला ने पैलेट गन के इस्तेमाल पर जल्द रोक लगाने की मांग की। उन्होंने कहा कि कश्मीर में शांति बहाली के लिए केंद्र सरकार को सभी पक्षों से बातचीत करने की जरूरत है। उमर ने कहा कि राज्य में अगर हालात पर तत्काल नियंत्रण नहीं पाया गया तो कश्मीर के युवाओं में अलगाव की भावना और पनपेगी। उमर अब्दुल्ला के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने गत दिवस राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और कांग्रेस उप प्रधान राहुल गांधी से भेंट की थी। कश्मीर में खराब हालात पर चर्चा के लिए विपक्षी पार्टियां दिल्ली में है। उमर अब्दुल्ला प्रधानमंत्री से मुलाकात कर कश्मीर समस्या पर विपक्ष की चिंता से अवगत करवाया और साथ ही कश्मीर में खराब स्थिति को सामान्य बनाने के लिए राजनीतिक समाधान पर जोर दिया। इससे पहले जम्मू-कश्मीर की विपक्षी पार्टियों के प्रतिनिधिमंडल ने नई दिल्ली में कांग्रेस के उप प्रधान राहुल गांधी से मुलाकात कर कश्मीर के खराब हालात पर चर्चा की। पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रधान जीए मीर ने राहुल गांधी के साथ कश्मीर की खराब स्थिति पर बातचीत करते हुए कहा कि केंद्र व राज्य सरकार स्थिति से निपटने में नाकाम रही है। उमर ने कहा कि स्थिति को सामान्य बनाने के लिए राजनीतिक प्रयास जरूरी है। हम पहले भी कह चुके हैं कि कश्मीर में समस्या के समाधान के लिए राजनीतिक तरीका अपनाया जाना चाहिए। जीए मीर ने कहा कि सरकार को कश्मीर के मुख्यधारा से जुड़े लोगों से बातचीत कर उन्हें विश्वास में लेना चाहिए और हालात सामान्य बनाने की दिशा में आगे बढऩा चाहिए। हम यह नहीं कहते कि पाकिस्तान या आतंकवाद से कोई समझौता किया जाए, लेकिन मुख्यधारा वाले लोगों से बातचीत की जाए। मीर ने कहा कि लोगों तक पहुंचना चाहिए और यह समस्या मात्र कानून व्यवस्था की नहीं है। हिसा से किसी समस्या का समाधान नहीं निकलने वाला है। स्थिति को सामान्य बनाने में विपक्षी पार्टियां भी अपना योगदान दे सकती है। करीब डेढ़ घंटे चली बैठक में कांग्रेस उप प्रधान राहुल गांधी ने कश्मीर में खराब हालात पर चिंता जताते हुए विपक्ष के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार को शीघ्र स्थिति सामान्य बनाने के लिए प्रभावी कदम उठाने चाहिए। माकपा के वरिष्ठ नेता विधायक मुहम्मद यूसुफ तारीगामी ने कहा कि कश्मीर की समस्या को राष्ट्रीय स्तर की समस्या मानकर इसका राजनीतिक समाधान करना चाहिए। उल्लेखनीय है कि हिजबुल आतंकी बुरहान वानी के एनकाउंटर के बाद घाटी में स्?थिति काफी तनावपूर्ण है और वहां कफ्र्यू लागू है।
------------

सुषमा स्वराज ने कहा, सऊदी अरब में नौकरी खोने वाले भारतीय लौट आएं
नई दिल्ली। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने सऊदी अरब में नौकरी खो देने वाले भारतीयों से स्वदेश लौटने की अपील की है। उन्होंने कहा कि सरकार उनकी वापसी का खर्च उठाएगी। स्वराज ने भारतीय कामगारों से अपने बकाया के लिए नियोक्ता के समक्ष दावे पेश करने के लिए भी कहा। विदेश मंत्री ने ट्वीट कर कहा, "सऊदी अरब में रह रहे भारतीय कामगार, कृपया अपने दावे फाइल कर घर लौट आएं। उन्होंने आगे कहा कि सऊदी सरकार के साथ बंद हो गई कंपनियों के निपटारे के बाद बकाये का भुगतान हो जाएगा। दावे के निपटारे में समय लगता है। ऐसे में अनिश्चितकाल तक सऊदी अरब में इंतजार करने का कोई मतलब नहीं है। इससे पहले भारतीय कामगारों की मदद के लिए विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह ने सऊदी अरब का दौरा किया था। वह पिछले हफ्ते भी इस सिलसिले में वहां गए थे। सऊदी अरब में मंदी के चलते हजारों भारतीय कामगारों की नौकरी छूट गई है।
-------------

इराक में 1700 सैनिकों के हत्यारे 36 आतंकियों को फांसी पर लटकाया
बगदाद। इराक ने सैकड़ों सैनिकों की हत्या करने के दोषी 36 आतंकियों को रविवार को फांसी पर लटका दिया। 2014 में तिकरित में सैन्य बेस पर किए गए आतंकी हमले में करीब 1700 सैनिक मारे गए थे। इसकी जिम्मेदारी आइएस ने ली थी। धीकर की प्रांतीय सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि नसीरिया जेल में 36 दोषियों को रविवार सुबह फांसी पर लटकाया गया। इस दौरान प्रांत के गवर्नर याहया अल-नसेरी और न्याय मंत्री हैदर अल-जमीली भी मौजूद रहे। इन दोषियों की फांसी को राष्ट्रपति से मंजूरी मिलने के बाद पिछले हफ्ते ही नसीरिया की जेल में लाया गया था। गौरतलब है कि पिछले महीने बगदाद पर हुए सबसे बड़े आतंकी हमले के बाद प्रधानमंत्री हैदर अल-अबीदी ने इच्छा जाहिर की थी कि आतंक के मामलों में मृत्युदंड पाए कैदियों की सजा पर जल्द अमल किया जाए। बगदाद में हुए बम धमाके में करीब 300 लोग मारे गए थे। माना जा रहा है कि रविवार को जिन 36 आतंकियों को फांसी दी गई उनमें से ज्यादातर इराकी नागरिक हैं। इन सभी आंतकियों को इस साल फरवरी में सामूहिक हत्या का दोषी पाया गया था।
--------------

अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी का मेल हैक, ऐसे चला पता
नई दिल्ली। देश के अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी का ई-मेल अकाउंट हैक करने का मामला प्रकाश में आया है। मुकुल रोहतगी इन दिनों विदेश में हैं। मामले की शिकायत अटॉर्नी जनरल के निजी सचिव सी गजेंद्रन नायडू की ओर से पुलिस में की गई है।शिकायत के मुताबिक, 16 अगस्त को उनके ई-मेल अकाउंट से दोस्तों को फर्जी मेल मिले। यह मेल अटॉर्नी जेनरल की ओर से भेजी गई थी, जिसमें कहा गया था कि वह इन दिनों विदेश में हैं। हैकर्स ने रोहतगी के दोस्तों को मेल करके रुपयों को उनके अकाउंट में जमा कराने की मांग की थी। फर्जी मेल में मुकुल की ओर से कहा गया कि उन्होंने फिलीपींस में एक प्रॉपर्टी खरीदी है। जिसमें वहां की सरकार के मुताबिक अपने अकाउंट में काफी रकम दिखानी होगी। लिहाजा उनके अकाउंट में अधिक से अधिक रुपए ट्रांसफर करके उनकी मदद करें। यह भी कहा गया कि विदेश से लौटते ही सभी को रुपए वापस कर देंगे। मेल मिलने के बाद दोस्तों ने उनसे संपर्क किया। तब उन्हें ई-मेल अकाउंट हैक होने की जानकारी मिली।

हिंदुओं की आबादी पर दिग्विजय ने आरएसएस को दी खुली चुनौती
आगरा/लखनऊ। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत के हिंदुओं की जनसंख्या से जुड़े बयान पर विवाद पैदा हो गया है। कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के विरोध के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने भी भागवत पर हमला बोला है। दिग्विजय ने ट्वीट किया, 'मोहन भागवत जी, आपने कहा हिंदुओं को अधिक बच्चे पैदा करना चाहिए। महिलाओं को चूल्हा चक्की तक सीमित रहना चाहिए यदि ना रहे तो उसे छोड़ देना चाहिये। दिग्विजय ने संघ कार्यकर्ताओं को खुली चुनौती देते हुए कहा कि आबादी का बढऩा धर्म से संबंधित है ही नहीं, यह पूरी तरह से गरीबी से जुड़ी होती है। उन्होंने कहा कि मुस्लिम जनसंख्या बढऩे की रफ्तार भी कम हो रही है। राजनीतिक फायदे के लिए आरएसएस और बीजेपी झूठी अफवाह फैला रहे हैं। मोहन भागवत को निशाने पर लेते हुए दिग्विजय ने कहा, यह तो खैर मनाइए महिलाओं ने ओलंपिक खेलों में भारत की लाज रख ली। अगर आपका बस चले तो उन्हें चूल्हा चक्की से बाहर ही ना आने दो।
हिंदुओं की कम होती जनसंख्या पर भागवत ने कहा था, 'कौन सा कानून कहता है कि हिंदुओं की जनसंख्या नहीं बढऩी चाहिए? ऐसा कुछ भी नहीं है। जब दूसरों की आबादी बढ़ रही है तो उन्हें कौन रोक रहा है? यह मुद्दा व्यवस्था से जुड़ा हुआ नहीं है। ऐसा इस वजह से है कि सामाजिक माहौल ही ऐसा है। आगरा में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भागवत ने यह टिप्पणी की थी। भागवत की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा, 'वह धर्म की ही खाते हैं। वह और क्या बात करेंगे? आजाद ने भागवत के मुसलमानों की आबादी दर ज्यादा होने से जुड़े एक बयान के बारे में पूछे गए सवाल पर कहा 'वह (भागवत) अपनी हर बात और हर शब्द में तोडऩे की ही बात करते हैं। वह रोजगार की बात करते, महंगाई की बात करते..मगर वह ऐसा नहीं करते। आगरा में एक रैली में बीएसपी प्रमुख मायावती ने भी हिंदू जनसंख्या पर भागवत की ओर से दिए गए बयान पर आरएसएस प्रमुख की आलोचना की। मायावती ने कहा, 'रएसएस प्रमुख हिंदुओं से कहते हैं कि दो से ज्यादा बच्चे पैदा करें। मैं उनसे कहना चाहती हूं - आप कहते हैं कि ज्यादा बच्चे पैदा करो, फिर नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार से पूछिए कि क्या वे उन्हें खिलाने-पिलाने का इंतजाम करेंगे। एक अन्य कार्यक्रम में करीब 2000 युवा दंपतियों को संबोधित करते हुए भागवत ने उनसे पारिवारिक मूल्यों के लिए काम करने की अपील की और कहा कि वे अपने बच्चों में देशभक्ति की भावनाएं जगाएं।
----------------

                 Image..                         Open a new window
Top News
 
 
पीएम मोदी से उमर के नेतृत्व में मिला प्रतिनिधिमंडल, पैलेट गन के इस्त&#
 
आफत की बारिश - 4 लाख लोग प्रभावित, हजारों बेघर
 
संभाग से ख़बरें
Bhopal
117.204.202.146A52069bhopal.jpg
भोपाल।  मप्र की वरिष्ठ आईएएस अधिकारी कल्पना श्रीवास्तव को प्रदेश &
Satna
117.204.202.146A49454satna.jpg
सतना। भूखे पेट बच्चों को लेकर रात-रातभर पेड़ में चढ़े परिवारों और अ
Rewa
117.204.202.146A29170rewa.jpg
रीवा। एक सप्ताह से बाढ़ से जूझ रहे रीवा और सतना जिले के दौरे पर पहुंच&#
 
Jabalpur
117.204.202.146A82069jabalpur.jpg
जबलपुर। स्मार्ट सिटी के बजाय हम गड्ढों से भरी सिटी में बदल गए हैं। स
Indore
117.204.202.146A2638indor.jpg
इंदौर। निनामा हत्याकांड के बाद सुर्खियों में आए मानपुर क्षेत्र के
Sagar
117.204.202.146A19335sagar.jpg
सागर। ब्रजेश रजक सुसाइड केस में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कë
खेल मनोरंजन फिल्म
हैदराबाद पहुंचीं सिंधु, चैंपियन की तरह हुआ स्वागत
अपने पैर की अंगुली और मुंह से चित्रकारी करती हैं शीला!
क्यों वायरल हो रहा है ऐश्वर्या-सोनाली का ये सालों पुराना वीडियो
Photo Albums
NO Photo available in this Album!!
 
विज्ञापन
Market Watch
Hot Pictures of the Day
 
 Yes
 No
 Cannot say
 
News paper PDF