देवरा पर घूमंद पर ध्वजा रंग साहब री, छम छम नाचे न्यू नाचे थारा जात्री

करम सिंह अनोखा और शालू यशवंत सिंह ने बाबा रे दरबार में सॉन्ग में अपनी आवाज दी है. आपको बता दें कि यह बाबा रामदेवजी का राजस्थानी भजन है. इस गीत का म्यूजिक राजू भारतीद्वारा कंपोज किया गया है और इसके निर्देशक सज्जन सिंह गहलोत हैं. मारवाड़ी एल्बम का सॉन्ग पी.आर.जी म्यूजिक एंड फिल्म्स की ओर से प्रस्तुत किया गया है. भजन में दिखाया गया है कि पैदलयात्री बाबा के दरबार रूणिचा जा रहे हैं और जगह जगह भंडारे लगे वहां पर किसी चीज कमी नहीं हैं. बाबा के की कृपा से भक्तो के कार्य सिद्ध हो रहे हैं. हर साल लाखो यात्री बाबा के दरबार रूणिचा आते और बाबा की महिमा बड़ी निराली हैं बाबे रे भंडारे में कमी नहीं कोई बात छम छम नाचे देखो बाबे रा जात्री देवरा पर घूमंद पर ध्वजा रंग साहब री छम छम नाचे न्यू नाचे थारा जात्री मेना दा रा लाल रानी नेतल रा भरतार सै अजमल जी आया विष्णु रा अवतार सै मन चाहया फल पावे जावे ना खाली हाथ री छम छम नाचे न्यू नाचे थारा जात्री दूर से पैदल चलके द्वार थारे आवे सै मन की आशा पूरी करदे धोक लगावे सै छम छम नाचे न्यू नाचे थारा जात्री.