आसाराम, राम रहीम के बाद एक और बाबा निकला बलात्कारी, फलाहारी बाबा को उम्रकैद

आसाराम, राम रहीम जैसे बलात्कारी बाबाओं के बाद एक और बाबा बलात्कार के मामले में दोषी पाया गया है, राजस्थान के संत कौशलेंद्र उर्फ़ फलाहारी बाबा को अदालत ने बलात्कार के मामले में दोषी ठहराया है. फलाहारी बाबा पर छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले की रहने वाली एक 21 वर्षीय युवती ने आरोप लगाया था कि बाबा ने अलवर के आश्रम में 11 सितम्बर 2017 को उसके साथ बलात्कार किया था. पुलिस में दर्ज रिपोर्ट के अनुसार बाबा ने उसे रात को अपने कमरे में बुलाया और उसके साथ बलात्कार किया था. आज इस मामले में फैसला सुनाते हुए अपर जिला एवं सेशन जज राजेंद्र शर्मा की अदालत ने फलाहारी बाबा को बलात्कार मामले में दोषी मानते हुए एक लाख रूपये का जुर्माना और आजीवन कारावास की सजा सुनाई है. कोर्ट में सरकारी वकील योगेंद्र खटाना ने पीड़िता के पक्ष में बहस की थी जिसमें सरकारी वकील में 376/2 (च) और 506 आईपीसी में जुर्म प्रमाणित बताते हुए दोषी को सजा देने की मांग की थी. इससे पहले सेशन जज राजेंद्र शर्मा की अदालत मंगलवार को ही दोनों पक्षों की सुनवाई पूरी कर ली थी, अदालत ने फैसला सुनाने के लिए बुधवार का दिन निर्धारित किया था. खुद को सजा से बचाने के लिए फलाहारी बाबा ने बीमारी का बहाना भी बनाया था, लेकिन डॉक्टरों की जांच में फिट पाए जाने के बाद पुलिस ने 23 सितम्बर को उसे गिरफ्तार कर लिया था.