गांधीजी ने स्वतंत्रता से पहले स्वच्छता को प्राथमिकता दी थी : पीएम मोदी

नई दिल्‍ली। आज देश के राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी जी की 150वी वर्षगांठ है। उनकी जन्मतिथि के इस अवसर पर आज देश भर के कई नेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की थी। इस कड़ी में आज देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी महात्मा गाँधी को याद करते हुए उनके जीवन में स्वछता के मायने को सबके सामने लाने का प्रयास किया है। दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज देश की राजधानी नई दिल्ली में ग्लोबल सैनिटेशन कन्वेंशन नामक एक कार्यक्रम में शामिल होने गए थे। इस कार्यक्रम में श्रोताओं को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि महात्मा गाँधी जी के जीवन में सबसे ज्यादा महत्त्व स्वच्छता का ही था। अपनी इस बात को पुख्ता करने के लिए पीएम मोदी ने गाँधी जी से जुड़ा एक किस्सा भी सुनाया। उन्होंने बताया कि गांधीजी ने आजादी की लड़ाई लड़ते हुए एक बार कहा था कि अगर उन्हें स्वतंत्रता और स्वच्छता में से सिर्फ एक ही चीज चुननी होगी तो वे पहली प्राथमिकता स्वच्छता को देते इसके साथ ही पीएम मोदी ने यह भी कहा कि आज मई पूरी दुनिया के सामने स्वीकार करता हूं अगर मैंने गांधी जी और उनके विचारों को इतनी गहराई से समझा न होता तो हमारी सरकार शायद कभी भी स्वच्छता अभियान को प्राथमिकता नहीं दे पाती।