राम मंदिर निर्माण को लेकर अनशन पर बैठे स्वामी परमहंस को पुलिस ने घसीटकर हटाया

लखनऊ। देश में हर चुनावों की तरह ही इस बार के चुनावों से पहले ही अयोध्या के मंदिर-मस्जिद का मुद्दा गर्माने लगा है। इस मुद्दे में अब एक नया पहलु जुड़ गया है जब अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण की मांग को लेकर अनशन पर बैठे स्वामी परमहंस दास को यूपी पुलिस ने जबरन उठा कर उनका अनशन तुड़वा दिया है। दरअसल उत्तरप्रदेश के छावनी के महंत और तपस्वी स्वामी परमहंस दास अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण की मांग करते हुए पिछले सात दिनों से आमरण-अनशन पर बैठे थे। इस मामले में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कहने पर बीजेपी मंत्री मंत्री सतीश महान उनसे मिलने पहुंचे थे और उन्होंने स्वामी परमहंस से इस अनशन को खत्म कर देने की गुजारिश की थी। परन्तु स्वामी परमहंस ने उन्हें अनशन खत्म करने से मना कर दिया। इसके बाद पुलिस ने स्वामी परमहंस को पकड़कर उन्हें जबरदस्ती अनशन स्थल से हटा दिया। इस मामले में जिला प्रशासन का कहना है कि यह कदम उठाना जरुरी था क्योंकि पिछले सात दिनों से लगातार अनशन पर बैठे रहने से स्वामी परमहंस जी का स्वास्थ्य बहुत ख़राब हो गया था। इसी वजह से उन्हें अनशन स्थल से हटा कर लखनऊ के एक अस्पताल में इलाज के लिए भेज दिया गया है। हालाँकि पुलिस के इस कदम के बाद से स्वामी परमहंस के समर्थकों में भारी आक्रोश देखा जा रहा है।