सिद्धू को मिली बगावत की सजा, ब्रह्म मोहिंद्रा को सौंपा सिद्धू का मंत्रालय

चंडीगढ. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच टकराव जारी है. इस बीच कैप्टन अमरिंदर ने नवजोत सिंह सिद्धू के मंत्रालय में बदलाव कर दिया है. जानकारी के अनुसार, सिद्धू को बिजली एवं नवीकरण ऊर्जा मंत्रालय का कार्यभार दिया गया है. इससे पहले सिद्धू के पास स्थानीय निकाय मंत्रालय की जिम्मेदारी थी. निकाय मंत्रालय अब कैबिनेट मंत्री ब्रह्म मोहिन्द्रा को सौंपा गया है.  कैप्टन ने आज कैबिनेट बैठक बुलाई थी जिसमें मंत्रियों के विभागों को बदला गया. हालांकि, सिद्धू बैठक में शामिल नहीं हुए. सिद्धू के अलावा सभी राज्य मंत्रियों के विभागों में कुछ बदलाव किए गए हैं. बता दें कि कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू आज हुई पंजाब कैबिनेट की मीटिंग में शामिल नहीं हुए थे. लोकसभा चुनावों के बाद यह पहली कैबिनेट की मीटिंग थी. मीटिंग में शामिल न होने की वजह पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच के मतभेद है. यह दूसरी बार है जब सिद्धू, सीएम द्वारा बुलाई गई मीटिंग से गायब रहे. वहीं नवजोत सिंह सिद्धू ने पंजाब कैबिनेट की मीटिंग में ना पहुंचने पर सफाई दी थी. उन्होंने कहा, मैं पूरा सच बोल रहा हूं, सीएम आधा सच बोल रहे हैं. मेरा प्रदर्शन हमेशा से अच्छा है. हर प्रोफेशन में मैंने अच्छा काम किया. मेरे विभाग को क्यों निशाना बनाया गया? मुझे हल्के में नहीं लिया जा सकता. मैं जो बात कर रहा हूं वो एक दम ठीक कर रहा हूं. कांग्रेस की जीत में मेरे पोर्टफोलियो ने अहम भूमिका अदा की है. पिछले महीने भी सिद्धू उस मीटिंग में शामिल नहीं हुए थे जिसमें सभी विधायक, कैबिनेट मंत्री और नवनिर्वाचित सांसद थे. यह मीटिंग भी सीएम अमरिंदर सिंह ने बुलाई थी. 
------------

0 Comments