मन की बात /मोदी ने कहा- पानी बचाने के लिए स्वच्छता की तरह जल संरक्षण को जनआंदोलन बनाएं

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सत्ता में वापसी के बाद रविवार को पहली बार अपने रेडियो कार्यक्रम में मन की बात की। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव के दौरान आपसे बात नहीं कर पाने का अफसोस रहा। कार्यक्रम को बहुत मिस किया। फरवरी में मैंने कहा था कि अब तीन-चार महीने बाद मिलेंगे तो लोगों ने इसके कई राजनीतिक अर्थ निकाले। मुझे यह विश्वास आपसे मिला था। आपने ही मुझे दोबारा बोलने का मौका दिया। प्रधानमंत्री ने जल संकट से निपटने के लिए लोगों से वर्षा जल के संरक्षण को लेकर तीन अनुरोध किए। उन्होंने कहा कि देशवासी स्वच्छता की तरह जल संरक्षण को जनआंदोलन बनाएं। मोदी ने पहले कार्यकाल में 53 बार मन की बात की थी। फरवरी के आखिरी कार्यक्रम में उन्होंने लोकसभा चुनाव में पूर्ण बहुमत के साथ वापसी की उम्मीद जताई थी। मोदी ने कहा, एक लम्बे अंतराल के बाद, फिर से एक बार, आप सबके बीच, मन की बातÓ का सिलसिला प्रारम्भ कर रहे हैं। तीन-चार महीने का वक्त काफी कठिन था। एक बार तो मन कर रहा था कि चुनाव समाप्त होते ही आपसे बात करूं, लेकिन फिर रविवार को ही बात करने का मन हुआ। इस रविवार ने काफी इंतजार कराया।

0 Comments